15.3 C
Delhi
Thursday, January 28, 2021
Home कोरोना वायरस 15 लाख के पार हुई कोरोना मरीज़ों की संख्या, मृत्यु दर 2.25...

15 लाख के पार हुई कोरोना मरीज़ों की संख्या, मृत्यु दर 2.25 प्रतिशत और रिकवरी दर 64 प्रतिशत।

- Advertisement -

भारत में कोरोना वायरस का कहर अभी तक जारी है। मरीज़ों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। रोज हजारों नए मामले सामने आ रहे हैं। ताज़ा आकड़ें के हिसाब से अब देश में कोरोना वायरस से संक्रमितों की कुल संख्या 15,14,058 हो गई है। महाराष्ट्र में कुल संक्रमण के मामले 3,83,723 तक हो गए हैं और अभी तक राज्य में मृत्यु का कुलआंकड़ा 13,883 तक पहुंच गया है। देश में महाराष्ट्र और तमिलनाडु में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले मिले हैं। तमिलनाडु में मंगलवार को कोरोना के 6,972 नए मामले सामने आए हैं जिसके बाद मरीजों की कुल संख्या 2,27,688 हो गई है। तमिलनाडु में कोरोना से आज 88 लोगों की मौत भी हुई है। अगर दिल्ली की बात करें तो बीते कुछ दिनों से राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में कमी देखने को मिल रही है। दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1056 नए केस सामने आए हैं। दिल्ली में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 लाख 32 हजार से अधिक हो गई है। इसमें से 1 लाख 17 हजार 507 मरीज ठीक हो चुके हैं।

- Advertisement -

राहत की बात यह है कि इस महामारी से पीड़ित मरीजों के स्वस्थ होने की संख्या में भी काफी इजाफा हुआ है। भारत में कोरोना वायरस से ठीक होने वाले मरीज करीब 9,69,336 है इसीलिए रिकवरी दर 64 प्रतिशत से भी अधिक है जो कि अन्य कई देशों से बेहतर है। मृत्यु दर में भी भारत के आकड़ें अन्य देशों से काफी कम है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि 18 जून को कोरोना से मृत्यु दर 3.3 प्रतिशत थी जो अब घटकर 2.25 प्रतिशत हो गयी है और जून के महीने में ठीक होने की दर करीब 53 प्रतिशत थी जो अब 64 प्रतिशत से ज्यादा हो गयी है। हालांकि पुरे देश में इस खतरनाक वायरस से अभी तक करीब 33,830 लोग अपनी जान गवां चुके हैं और करीब 5,10,469 मरीज़ों का इलाज अभी चल रहा है। बंगाल की बात करें तो कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए पश्चिम बंगाल में लॉकडाउन को 31 अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया गया है।

- Advertisement -

पूरी दुनिया इस खतरनाक वायरस के वैक्सीन को बनाने में लगी हुई है। दुनिया के हज़ारों वैज्ञानिक दिन रात इस काम में लगे हुए हैं। इसी दिशा में अमेरिका में कोरोना वायरस की Moderna Inc की वैक्सीन का सबसे बड़ा ट्रायल अब शुरू हो गया है। इस वैक्सीन को 30 हजार वॉलंटिअर्स को दिया गया है। दुनिया की सबसे बड़ी कोरोना वैक्सीन स्टजी सोमवार से शुरू हो गई है और इसमें 30 हजार लोगों को Moderna Inc की बनाई वैक्सीन दी गई। यह वैक्सीन उन चुनिंदा कैंडिडेट्स में से है जो कोराना वायरस से लड़ने की रेस के आखिरी चरण में हैं। ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड युनिवर्सिटी “आस्ट्राजेनेका” नाम के टिके पर काम कर रही है। इस टीके का इंसानों पर सफल परीक्षण भी हो चुका है और आखिरी चरण के ट्रायल में इस टीके को ज्यादा समय नहीं लगेगा। ब्रिटिश वैज्ञानिकों ने इस टीके के अंतिम चरण के ट्रायल दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील में करने का फैसला किया है।

- Advertisement -

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी “मन की बात” में कहा कि कोरोना वायरस का खतरा अभी टला नहीं है और अभी भी उतना ही घातक है जितना शुरुआत के दिनों में था। उन्होंने लोगों से पूरी सावधानी बरतने की अपील की है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस का खतरा अभी भी जारी है और कई स्थानों पर यह तेजी से फैल रहा है। उन्होंने ज्यादा सतर्क रहने की अपील की है। उन्होंने कहा की हमें यह ध्यान रखना है कि कोरोना वायरस अब भी उतना ही घातक है जितना शुरू में था। इसीलिए इस मामले में हमें हर तरह की सावधानी बरतनी चाहिए। उन्होंने मास्क पहनने और सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करने की अपील की है।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन

खबरों के लिए हमें लाइक, फॉलो और सब्सक्राइब करें

2,903FansLike
3FollowersFollow
12SubscribersSubscribe