26.3 C
Delhi
Wednesday, April 21, 2021
Home देश शुरू हुआ "भारतीय सामान हमारा अभिमान" कैंपेन, होगा चीनी सामानों का बहिष्कार।

शुरू हुआ “भारतीय सामान हमारा अभिमान” कैंपेन, होगा चीनी सामानों का बहिष्कार।

- Advertisement -

कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स CAIT द्वारा चीन निर्मित सामानों के बहिष्कार के लिए समिति का गठन कुछ दिन पहले ही हो चुका है। इस अभियान को “भारतीय सामान हमारा अभिमान” के अंतर्गत शुरू किया गया है। लद्दाख की सीमा पर भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प होने के बाद कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स खुलकर सामने आ गया है। करीब 500 सामानों की लिस्ट जारी की गई है और कहा गया है इन सभी सामानों के आयात ना होने से भी भारत पर कोई भी प्रभाव नहीं पड़ने वाला है क्योंकि सभी सामान भारत में खुद ही बनाई जा रही है।

- Advertisement -

कैट का लक्ष्य है कि दिसंबर 2021 तक चीनी सामानों के आयात को कम करने से करीब डेढ़ लाख करोड़ रुपए का चीनी सामानों का आयात बंद हो जाएगा। कैट के द्वारा जारी चीन से आयात न करने वाली प्रोडक्ट्स में प्रतिदिन काम में आने वाली वस्तुएं है जैसे खिलौने, फर्निशिंग फैब्रिक, बिल्डर हार्डवेयर, गारमेंट, फुटवियर, किचन का सामान, लगेज, हैंडबैग, कॉस्मेटिक, फैशन के समान, घड़ियां, कपड़े, स्टेशनरी, घरेलू वस्तुएं, फर्नीचर, लाइटिंग संबंधी समान, हेल्थ प्रोडक्ट्स, ऑटो पार्ट्स, दिवाली का सामान, होली का सामान आदि को सम्मिलित किया गया है। लिस्ट काफी लम्बी है।

- Advertisement -

कैट के अनुसार फिलहाल भारत चीन से करीब 5.25 लाख करोड़ का चीन द्वारा निर्मित वस्तुओं का सालाना आयात करता है। कैट ने पहले चरण में करीब 3000 प्रोडक्ट को शामिल किए हैं जिससे कि भारत को चीन पर कम से कम निर्भर रहना पड़े। कैट के अनुसार जिन चीजों में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल हो रहा है फिलहाल उन सामानों को बहिष्कार करने के लिस्ट में सम्मिलित नहीं किया गया है जब तक कि भारत में ऐसी टेक्नोलॉजी ना आ जाए। भारत के लिए यह सही वक्त है जब देश के व्यापारियों और भारत के लोगो को एकजुट होकर चीनी सामानों का मजबूती से बहिष्कार करना चाहिए।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन

खबरों के लिए हमें लाइक, फॉलो और सब्सक्राइब करें

2,903FansLike
3FollowersFollow
12SubscribersSubscribe