Monday, May 23, 2022
30.1 C
Delhi
Homeविज्ञानआसमान से आ रही बड़ी आफत - 1017 फीट लंबा है 441987...

आसमान से आ रही बड़ी आफत – 1017 फीट लंबा है 441987 – 2010 NY65

- Advertisement -

नासा ने हाल ही में पता लगाया है कि एक विशाल उल्कापिंड पृथ्वी की ओर आ रहा है। इस उल्कापिंड का नाम 441987 (2010 NY65) दिया गया है। यह लगभग 310 मीटर व्यास का है और अनुमान है की यह 1017 फीट लंबा है। कुछ वैज्ञानिक इसको लेकर काफी चिंता कर रहे हैं। वैज्ञानिकों के अनुसार यह उल्कापिंड दिल्ली में भारत के कुतुब मीनार की तुलना में चार गुना और लंदन के बिग बेन के आकार से तीन गुना अधिक है। नासा के अनुसार यह उल्कापिंड 441987 (2010 एनवाई 65) 24 जून को दोपहर 12:15 बजे पृथ्वी के बेहद नजदीक से गुजरेगा। पृथ्वी से गुज़रते वक़्त यह उल्कापिंड 2.3 मिलियन मील दूर होगा। नासा ने बताया कि पृथ्वी के करीब से गुजरते वक़्त इस उल्कापिंड की रफ़्तार 12.89 किलोमीटर प्रति सेकंड तक रहेगी। यह गति बुलेट से 14 गुना तेज है।

- Advertisement -

ulkapindनासा के विशेषज्ञों के हिसाब से किसी को भी उल्कापिंड या धूमकेतु के पृथ्वी पर होनेवाले प्रभाव के बारे में अत्यधिक चिंता नहीं करनी चाहिए। जून में पृथ्वी के नजदीक से उल्कापिंड के गुजरने की यह तीसरी घटना है। पहला उल्कापिंड 6 जून को पृथ्वी से गुजरा था और वह 570 मीटर व्यास का था। वह पृथ्वी के नजदीक से 40,140 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गुजरा था। उस उल्कापिंड का नाम 2002 एनएन 4 था। हालांकि, नासा ने भविष्य में पृथ्वी के साथ किसी क्षुद्रग्रह के टकराने की संभावनाओं से इंकार भी नहीं किया है ।

- Advertisement -

उल्कापिंड के बारे में बहुत से लोग यह नहीं जानते हैं कि नासा हमारे पृथ्वी को उल्कापिंड से टकराने से रोकने में सक्षम हैं। नासा के पास बिना किसी फ्रैक्चर के उल्कापिंड की रफ़्तार को थोड़ा बदलने के लिए उसकी सतह के ऊपर नाभिकीय संलयन हथियारों का उपयोग करके उल्कापिंड को अलग करने की तकनीक है। शुक्र है कि यह उल्कापिंड पृथ्वी से दुरी बनाये रखेगा।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन