Friday, September 24, 2021
26.1 C
Delhi
Homeदेशबिहारबिहार : दो प्रेमी की थाने में ही कर दी गई शादी

बिहार : दो प्रेमी की थाने में ही कर दी गई शादी

- Advertisement -

यह घटना बिहार के रोहतास जिले के डेहरी स्थित महिला थाना की है. महिला थाना परिसर में बुलाये गए पंडित जी ने शुभ मुहूर्त बता कर दो प्रेमी जोड़े की शादी करा दी। महिला थानाध्यक्ष माधुरी कुमारी ने बताया कि टंड़वा गांव के प्रेमी अभयकांत और पडुहार गांव की प्रेमिका प्रियंका के बीच कई सालों से प्रेम संबंध था। लड़के और लड़की के घरवाले दोनों की शादी के लिए तैयार नहीं थे। शादी के लिए लड़की अपने घर से 4 बार भाग चुकी थी। महिला थानाध्यक्ष माधुरी कुमारी ने बताया कि टंड़वा गांव के प्रेमी अभयकांत एवं पडुहार गांव की प्रेमिका प्रियंका के बीच कई सालों से प्रेम संबंध था लेकिन लड़के और लड़की वाले का परिवार शादी के पक्ष में नहीं था. तब लड़की ने इसकी शिकायत महिला थाना में दर्ज कराई. महिला थानाध्यक्ष माधुरी कुमारी ने लड़की की शिकायत पर लड़के को थाना बुलाया, जहां लड़के ने अपनी तरफ से शादी की सहमति जताई. दोनों की शादी की सहमति के बाद तत्काल थाना परिसर में ही शादी कराने का निर्णय लिया गया. इसके बाद हिंदू रीति-रिवाज के मुताबिक दोनों की विधिवत शादी कराई गई.lover

- Advertisement -

थाना में हुए शादी के बाद दुल्हन को लेकर दूल्हा अपने घर को रवाना हो गया. दरिहट थाना क्षेत्र पडुहार निवासी हरिदवार चौधरी की पुत्री प्रियंका कुमारी ने महिला थाना में 2 दिन पूर्व आवेदन दिया था. जिसमे लिखा था कि वह 21 वर्षीय इंटर की छात्रा है जो टंडवा हाई स्कूल में पढ़ती है. उसी दौरान टड़वा गांव निवासी विश्वनाथ चौधरी के पुत्र अभयकांत से उसे प्रेम हो गया. अभयकांत मध्य प्रदेश के कटनी में रेलवे ग्रुप डी में नौकरी करते हैं. 30 जून को अभयकांत ने कटनी में ही अपने कमरे में सिंदूर लगा कर अपनी पत्नी का दर्जा दिया. जिसकी जानकारी अभयकांत के परिजनों मिल गई तब अभयकांत के परिवार वालो ने हमें अलग कर दिया. जिसके बाद अभयकांत डेहरी पहुंचकर मुझे किराए पर माकन लेकर रखने लगे और मै पढ़ाई करने लगी.

- Advertisement -

प्रियंक कुमारी के आवेदन के बाद महिला थानाध्यक्ष माधुरी कुमारी ने अभयकांत को फ़ोन कर महिला थाना में बुलाया. शुक्रवार को महिला थाना पहुंचकर अभयकांत ने कहा की वह खुद भी प्रियंक कुमारी से शादी करना चाहता है. फिर थानाध्यक्ष के द्वारा पंडित को बुलाया गया और थाने में ही प्रियंका और अभयकांत दूल्हा और दुल्हन के रूप में तैयार हुए. पुरे रीती रिवाज के साथ महिला थाना परिसर में प्रेमी जोड़े की शादी कराई गई. शादी कि शुरू होते ही अपनों का इंतजार कर रही प्रियंका को महिला थाना के कोने में हुए उसको अपने भाई पर नजर पड़ गई और वह जोर से रोने लगी. बहन को रोता देख भाई भी करीब पंहुचा और फिर दोनों भाई बहन एक दूसरे को पकड़ कर जोर जोर से रोने लगे. पुलिस वालो ने दोनों भाई बहन को चुप कराया और शादी को पूरी विधि के साथ पूरा करवाया. महिला थानाध्यक्ष ने बताया कि लड़का और लड़की दोनों शादी के लिए राजी थे और दोनों बालिग भी थे जिसके चलते दोनों के परिवार कि नाराजगी के बावजूद थाने में ही प्रेमी जोड़े की शादी करवा दी गई. प्रियंका और अभयकांत चौधरी के इस विवाह की चर्चा पूरे इलाके में है।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन