Friday, September 24, 2021
34.1 C
Delhi
Homeदेशचक्रवाती तूफान यास ने दिखाया रौद्र रूप, बना तबाही का तूफान

चक्रवाती तूफान यास ने दिखाया रौद्र रूप, बना तबाही का तूफान

- Advertisement -

बंगाल की खाड़ी से उठने वाले तूफान यास ने जमकर तबाही मचाई है। पश्चिम बंगाल और ओडिशा में यास तूफान के विकराल रूप धारण करने से पहले ही कई राज्यों में अलर्ट जारी कर दिया गया था। चक्रवात यास सुबह 9 बजे तटीय इलाकों में टकराया था जिसके बाद चक्रवात यास ने पश्चिम बंगाल और उत्तरी ओडिशा में अपना प्रभाव दिखाना सुरु कर दिया। इस दौरान तेज़ हवाएं चली, समुन्द्र में ऊँची ऊँची लहरें उठी और कई इलाकों में पानी भर गया। चक्रवात यास बंगाल के जलपाईगुड़ी में दोपहर के वक्त पहुंचा और इसी दौरान 3.8 तीव्रता का भूकंप भी रिकॉर्ड किया गया। ओडिशा में लैंडफॉल के बाद तटीय इलाकों में कई नावों और दुकानों को जबरदस्त नुकसान पंहुचा। पश्चिम बंगाल ओडिशा की सीमा के पास उदयपुर में हवा के तेज़ रफ़्तार ने कर चेक पोस्ट बैरेगेट्स उड़ा दिए। चक्रवात यास की वजह से भद्रक जिले के धमरा में बाढ़ जैसे हालात बन गए। ओडिशा के जगतसिंघपुर के सड़क पर कई पेड़ गिर गए।

- Advertisement -

बताया गया कि बढ़ते जलस्तर के कारण तटीय जिलों में कई स्थानों पर तटबंध टूट गए जिसके कारण कई गांव और छोटे कस्बों में पानी भर गया। विद्याधारी, हुगली और रूपनारायण समेत कई नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। सेना, एनडीआरएफ और राज्य पुलिस लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए लगातार काम कर रहे हैं। चक्रवात यास की लैंडफॉल प्रक्रिया दोपहर 2 बजे तक पूरी हो गयी। ओडिशा के भद्रक और बंगाल के दीघा में तूफान का सबसे ज्यादा असर दिखा। चक्रवात की गंभीरता को देखते हुए कोलकाता एयरपोर्ट से सभी उड़ानों को निलंबित कर दिया गया है।

- Advertisement -

पश्चिम बंगाल के हुगली और उत्तरी 24 परगना जिलों में तूफान की वजह से करीब 80 माकन आंशिक रूप से छतिग्रस्त हो गए। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस तूफान को बवंडर बताया। उन्होंने कहा कि चक्रवात यास के कारण बंगाल में कम से कम एक करोड़ लोग प्रभावित हुए हैं। ममता ने कहा कि यास के कारण 15 लाख से अधिक लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। उन्होंने बताया कि चक्रवात यास के चलते बंगाल में करीब तीन लाख मकानों को क्षति पहुंची है। बनर्जी ने कहा कि चक्रवात के कारण प्रभावित होने वाले पूर्वी मेदिनीपुर, दक्षिण एवं उत्तर 24 परगना के इलाकों का शुक्रवार को दौरा करेंगी। उन्होंने प्रभावित क्षेत्रों के लिए एक करोड़ रुपये की राहत भेजी है।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन