13.1 C
Delhi
Wednesday, January 20, 2021
Home आस्था दीपावली जैसी रौनक के साथ शुरू होगा नए राम युग का आरम्भ,...

दीपावली जैसी रौनक के साथ शुरू होगा नए राम युग का आरम्भ, अयोध्या में चल रही तैयारियां।

- Advertisement -

भारत में जल्द ही वह ऐतिहासिक पल आने वाला है जब नए राम युग का आरम्भ हो जायेगा। आने वाले 5 अगस्त को अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूमि पूजन करेंगे। भव्य राम मंदिर निर्माण का शुरू होने में सिर्फ 11 दिन ही बाकी है। करीब 500 साल बाद अयोध्या में ऐसा शुभ मुहूर्त आया है कि रामभक्तों की इच्छा पूरी होने जा रही है। अयोध्या में 5 अगस्त को श्री राम जन्म भूमि पूजन के समय पूरा देश एक सूत्र में बंध जाएगा। श्री राम मंदिर के शिलान्यास का इंतजार पूरा हिन्दोस्तान कर रहा है। अयोध्या में तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं और भूमि पूजन के लिए देश की प्रमुख नदियों का पवित्र जल और तीर्थ स्थलों की मिट्टी भी 1 अगस्त तक अयोध्या पहुंच जाएगी। श्रीराम जन्मभूमि पर विराजमान “रामलला” के लिए नए वस्त्रों को तैयार किया जा रहा है। जानकारी के हिसाब से पीएम मोदी अयोध्या में भूमि पूजन से पहले “रामलला” के दर्शन कर उन्हें नवीन वस्त्र पहनाएंगे।

- Advertisement -

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या के सभी मंदिरों में भूमि पूजन के दिन दीप जलाकर श्रद्धा के साथ मंदिर निर्माण की तैयारियों में योगदान देने के लिए कहा है इसीलिए शिलान्यास के दौरान 4 से 5 अगस्त को भगवान की नगरी में दीपावली जैसी रौनक देखने को मिलेगी। इस कार्यक्रम के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पूरी तरह से पालन किया जाएगा। श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र के कोषाध्यक्ष स्वामी गोविंद देव गिरि ने बताया था कि शिलान्यास समारोह में 150 आमंत्रितों सहित 200 से अधिक लोग शामिल नहीं हो पाएंगे। अयेाध्या के संतों को पीएम मोदी के 5 अगस्त के कार्यक्रम पर पूरा भरोसा है। मणिराम छावनी के महंत कमल नयन दास साफ शब्दों में कहते है कि पीएम का आना तय है। 3 अगस्त से पूजा अनुष्ठान का तीन दिवसीय कार्यक्रम शुरू होगा। पूरा भारत उस वक़्त का इंतज़ार कर रहा है जब भूमि पूजन के साथ भव्य राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हो जायेगा।

- Advertisement -

राम मंदिर की इमारत को बनाने का काम अहमदाबाद के एक आर्किटेक्ट चंद्रकांत सोमपुरा को दिया गया है और चंद्रकांत सोमपुरा और उनके बेटे अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण में लगे हुए हैं। चंद्रकांत सोपुरा के अनुसार इस मंदिर में तीन गुंबद होंगे और मंदिर की ऊंचाई लगभग 161 फ़ीट होगी। इस मंदिर के निर्माण में लगने वाले समय की बात की जाए तो सोमपुरा के मुताबिक़ मंदिर आनेवाले तीन से चार सालों में बनकर तैयार हो जाएगा।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन

खबरों के लिए हमें लाइक, फॉलो और सब्सक्राइब करें

2,903FansLike
3FollowersFollow
12SubscribersSubscribe