Friday, September 24, 2021
34.1 C
Delhi
Homeबिग ब्रेकिंगमहाराष्ट्र में भारी बारिश से बनी बाढ़ जैसी स्थिति, भूस्खलन से 44...

महाराष्ट्र में भारी बारिश से बनी बाढ़ जैसी स्थिति, भूस्खलन से 44 लोगों की जान गई

- Advertisement -

भारी बारिश के चलते महाराष्ट्र के कई इलाकों में जैसे -कोल्हापुर, रायगढ़, रत्नागिरी, पालघर, ठाणे और नागपुर के कुछ हिस्सों में बारिश के चलते बाढ़ जैसी स्थिति बन गई है. भारी बारिश से हुए हादसों में अब तक 49 लोगों की मौत कि खबर सामने आई हैं. रायगढ़ के तलई गांव में पहाड़ का मलवा रिहायशी इलाके पर गिर पड़ा जिसके नीचे करीब 35 घर दब गए जिससे कि 36 लोगों की मौत हो गई है और 70 से ज्यादा लोगो की अभी तक कोई खबर नहीं हैं. 32 लोगों के शव अब तक बाहर निकाले जा चुके हैं. सतारा के अंबेघर गांव में भी भूस्खलन हुई है. यहां पर भी 8 लोगों की मरने कि खबर है. भूस्खलन के नीचे करीब 20 लोग अभी भी दबे हुए हैं. मुंबई से सटे गोवंडी में एक बिल्डिंग के गिरने से 4 लोगों की मौत हो गई. सभी मरने वाले वयक्ति एक ही परिवार के हैं. बिल्डिंग के गिरने कि वजह से 6 जख्मी हुए हैं. घायलों को मुंबई के औमर सायन हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है.

- Advertisement -

नदियों का पानी शहरों और गांवों में घुसने लगा है. मौसम विभाग की माने तो अगले 72 घंटो के लिए कोंकण, मुंबई और इसके आसपास के सटे जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है. ठाणे और पालघर में भारी बारिश के कारण निचले इलाके पिछले 24 घंटे से पानी में डूबे हैं. कोंकण में अभी तक बारिश के चलते 8 लोगों की मौत हो चुकी है. लगभग 700 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला जा चुका है. रत्नागिरी में जगबुडी नदी अपने सामान्य निशान से 2 मीटर और वशिष्ठ नदी अपने सामान्य निशान से करीब एक मीटर ऊपर बह रही है। कजली, कोडावली, शास्त्री और बावंडी नदियाें ने भी खतरे के निशान को पार कर लिया है। बारिश की वजह से कोंकण रेल मार्ग पर कई जगह भूस्खलन हुई है. रत्नागिरी जिले में बारिश के कारण रेल सेवाएं बंद कर दी गई हैं. महाराष्ट्र के कई जगहों पर करीब 6 हजार यात्री फंसे होने की खबर हैं. इन्हें निकालने के लिए एनडीआरएफ की टीम कड़ी महेनत कर रही है. रायगढ़ में 4 जगह भूस्खलन होने से कई लोग बुरी तरह से फंसे हुए हैं. अभी तक 25 लोगों को निकाला गया है और 20 लोग अभी भी बुरी तरह फंसे हुए हैं. तलाई गांव को जोड़ने वाली सड़क पानी के चलते बह गई है जिसके चलते गांव के अंदर लोग फंसे हुए हैं. कोल्हापुर में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए एनडीआरएफ की दो टीमें लगातार प्रयास कर रही है.

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन