Thursday, August 5, 2021
Homeदेशबिहारचाचा बोलते तो मैं खुद उन्हें वो पद दे देता : चिराग

चाचा बोलते तो मैं खुद उन्हें वो पद दे देता : चिराग

- Advertisement -

लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) में फूट के बाद पार्टी में घमासान मचा हुआ है। चिराग पासवान ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस किया। उन्होंने कहा कि LJP को पहले भी तोड़ने की कोशिश की गई थी। उन्होंने कहा कि चाचा बोलते, तो पहले ही उन्हें संसदीय दल का नेता बना देता। उन्होंने कहा कि मैंने अंत तक प्रयास किया कि पार्टी और परिवार को साथ रख सकूं, मैं परिवार की बातें सार्वजनिक करना पसंद नहीं करता हूँ। उन्होंने कहा कि पिता जी के निधन के तुरंत बाद ही पार्टी को विधानसभा चुनाव में उतरना पड़ा और उस दौरान ढंग से घर पर बैठने या पापा को याद करने का भी समय नहीं मिल पाया। उन्होंने कहा कि कुछ समय से मेरी तबियत ठीक नहीं चल रही है। उन्होंने बताया कि जब मैं बीमार पड़ा तो मेरे पीठ पीछे षडयंत्र रचा गया। चिराग ने कहा कि चुनाव के बाद से ही चाचा से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन संपर्क नहीं हो पाया। मैंने उन्हें पत्र भी लिखा था। उन्होंने कहा कि मेरी कोशिश पार्टी और परिवार को बचाने की थी लेकिन जब कल मुझे लगा कि अब कुछ नहीं हो सकता तो फिर मैंने उनको निकाला। अगर मुझे वो कहते तो मैं उनको लोकसभा नेता बना देता लेकिन जिस तरीके से उनको नेता चुना गया है वो गलत है, यह निर्णय संसदीय बोर्ड के पास है।

- Advertisement -

उन्होंने कहा लड़ाई के सिवा मेरे पास कोई विकल्प नहीं बचा है। पापा ने बड़ी मेहनत से पार्टी बनाई थी। उन्होंने कहा कि इस पूरे खेल में जेडीयू का हाथ जरूर है लेकिन खुद के लोगों ने उन्हें धोखा दिया है, पहले इस मामले को सुलझा लूं और बाकी का बाद में देखूंगा। उन्होंने कहा कि सभी ने कहा था कि हमें नकार दिया जाएगा लेकिन लोजपा को 6 प्रतिशत वोट मिला। राज्य के 25 लाख लोगों ने हमारी पार्टी को वोट किया है। उन्होंने कहा कि लोजपा ने अपने सिद्धांतों से कभी समझौता नहीं किया। चिराग ने कहा कि एक लंबी लड़ाई लड़नी पड़ेगी। चिराग ने कहा कि जिस महिला ने प्रिंस पर आरोप लगाए हैं हमने उनसे पुलिस के पास जाने को कहा है।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन