Friday, September 24, 2021
34.1 C
Delhi
Homeदेशकुछ ही घंटों में 'यास' बनेगा तबाही का तूफान, दिखने लगा है...

कुछ ही घंटों में ‘यास’ बनेगा तबाही का तूफान, दिखने लगा है असर

- Advertisement -

भारतीय मौसम विभाग ने मंगलवार को आशंका जताई है कि चक्रवाती तूफान Yaas अगले 12 घंटे में भीषण तूफान में बदल जाएगा। चक्रवाती तूफान यास का खतरा मंडराने लगा है। बंगाल और ओडिशा में यह खतरनाक तूफान जल्द ही दस्तक देने वाला है। लाखों लोगों को घर से निकाल कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। मौसम विभाग IMD ने तूफान के तटीय इलाकों में टकराने से पहले भयंकर बारिश की चेतावनी दी है। यह तूफान उत्तर एवं उत्तर पश्चिम दिशा की तरफ बढ रहा है। बताया जा रहा है कि यह चक्रवात कल सुबह उड़ीसा तट के धमारा पोर्ट के निकट होगा और उस वक़्त हवा की रफ़्तार 155-165 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है।

- Advertisement -

केंद्रपाड़ा, भद्रक, जगतसिंहपुर और बालासोर जिलों के लिए मंगलवार और बुधवार के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। बता दें कि IMD भुवनेश्वर ने कहा है कि धामरा और पारादीप बंदरगाहों के लिए सबसे ज्यादा खतरे की चेतावनी जारी की गई है। मयूरभंज, जाजपुर, कटक, खोरदा और पुरी के लिए IMD ने मंगलवार के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। IMD ने यह जानकारी दी है कि तूफान के दौरान 155 से 165 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से लेकर 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक हवा चलने की उम्मीद है। मिली जानकारी के मुताबिक़ चक्रवाती तूफान यास की बुधवार दोपहर तक बंगाल और ओडिशा के तटीय इलाकों से टकराने की उम्मीद है।

- Advertisement -

चक्रवाती तूफान यास का असर अभी से दिखने लगा है। ओडिशा के कई इलाकों में तेज बारिश भी देखने को मिल रही है। चक्रवात के दस्तक देने के दौरान सुमन्द्र में 2 से 4.5 मीटर की ऊंची लहरे उठ सकती है। बंगाल और ओडिशा के तटीय इलाकों पर एनडीआरएफ के टीम अपनी तैयारियों के साथ तैनात हो चुकी हैं। इस चक्रवात के मद्देनजर कई ट्रेनों को भी रद्द कर दिया गया है।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन