Friday, September 24, 2021
29.1 C
Delhi
Homeआस्थाशिव पुराण में भगवान् शिव ने बताये हैं मृत्यु के यह 12...

शिव पुराण में भगवान् शिव ने बताये हैं मृत्यु के यह 12 संकेत

- Advertisement -

लोग अक्‍सर इस विषय पर बात नहीं करना चाहते. इसका समय भी कोई नहीं बता सकता. पर इसे लेकर हर किसी के मन में जिज्ञासा अवश्‍य रहती है. हर कोई ये जानना चाहता है कि उसकी मौत किस उम्र में और किस तरह से होनेवाली है. हालांकि, इस बात को बता पाना तो शायद किसी के लिए भी मुमकिन ना हो, पर मौत से पहले शिव पुराण में दिए गए कुछ संकेतों को जरूर समझा जा सकता है जिसे भगवान् शिव ने बताये हैं. पौराणिक मान्यताओं के हिसाब से हर सपने का कोई न कोई अर्थ जरूर होता है. इन सपनों में हमारे भूतकाल, वर्तमान के साथ कुछ भविष्य की बातें भी जुड़ी होती हैं. शिवपुराण में सपनों के अलावा भी कई ऐसे कई संकेत बताए गए हैं.

- Advertisement -

शिवपुराण के अनुसार
अगर अचानक किसी व्यक्ति का शरीर नीला या पीला पड़ जाए या उसके शरीर पर लाल निशान दिखाई दें तो उसकी मृत्यु 6 महीने में हो सकती है. जिस व्यक्ति का मुंह, कान, आंख व जीभ ठीक से काम करना बंद हो गया हो, उसके जीवन के 6 महीने ही बचे हो सकते हैं. यदि किसी व्यक्ति का गला और मुंह बार-बार सूखने के लक्षण आने लगे तो उसकी मृत्यु 6 महीने के अंदर संभव है. जब किसी का बायां हाथ लगातार फड़कता रहे, तालू सूख जाए तो उसकी मृत्यु 1 महीने के अंदर हो सकती है. जिसे चंद्रमा व सूर्य के आस-पास काला या लाल घेरा दिखाई देने लगे, उसकी मृत्यु 15 दिन के अंदर हो सकती है. जिसे चंद्रमा व तारे ठीक से न दिखाई दें या काले दिखाई दें, उसकी मृत्यु 1 महीने में हो सकती है. जिस व्यक्ति को अचानक नीली मक्खियां घेर लें, हो सकता है उसकी आयु लगभग 1 महीना ही बची हो. जिस मनुष्य के सिर पर गिद्ध, कौआ या कबूतर आकर बैठ जाए, उसकी मृत्यु 1 महीने के अंदर हो सकती है. जिसे पानी, तेल, घी या दर्पण में अपनी परछाई दिखाई न दे तो उसकी आयु 6 महीने ही बची हो सकती है. जब किसी व्यक्ति को अपनी परछाई बिना सिर के दिखाई दे तो उसकी मृत्यु 6 महीने में हो सकती है. जिसे आग की रोशनी ठीक से दिखाई न दे, चारों ओर अंधेरा दिखे, उसकी मृत्यु 6 महीने में हो सकती है. जिसे ध्रुव तारा व सूर्य के दर्शन न हों, रात में इंद्रधनुष दिखाई दे, उसकी उम्र 6 महीने बाकी हो सकती है।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन