Friday, September 24, 2021
34.1 C
Delhi
Homeआस्थाजून में इस दिन है मासिक शिवरात्रि, भगवान शिव की पूजा का...

जून में इस दिन है मासिक शिवरात्रि, भगवान शिव की पूजा का है विशेष महत्व

- Advertisement -

भगवान शंकर को देवों के देव कहा गया है इसीलिए उन्हें महादेव का नाम दिया गया है। सच्चे मन से उनकी पूजा करने और उनका जाप करने से कई समस्याओं का निवारण होता है और जीवन को कष्ट से मुक्ति मिल जाती है। उनकी पूजा करने के लिए शिवरात्रि से अच्छा दिन और कोई नहीं हो सकता है। साल के हर महीने की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मासिक शिवरात्रि का दिन आता है जिसे हिन्दू धर्म में भगवान शिव की पूजा के लिए सबसे अच्छा दिन माना जाता है। हिंदू धर्म में मासिक शिवरात्रि का बहुत महत्व है। इस दिन भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए लोग व्रत रखते हैं। इस बार मासिक शिवरात्रि 8 जून, मंगलवार को है इसलिए मासिक शिवरात्रि 08 जून को ही मनाई जाएगी। इस दिन भगवान शंकर के साथ माता पार्वती की भी पूजा की जाती है। इस दिन भगवान शिव ने साकार स्वरूप धारण किया था और इस दिन ही भगवान शिव और माता पार्वती का विवाह हुआ था। शिवरात्रि को भगवान शिव और माता पार्वती के महामिलन का दिन माना जाता है।

- Advertisement -

मासिक शिवरात्रि के दिन व्रत करने से जीवन की सभी समस्याएं दूर हो जाती हैं। इस दिन पूजा करने से भगवान शिव प्रसन्न हो जाते हैं। इस दिन पूजा करना हिन्दू धर्म में प्रभावशाली बताया गया है। इस दिन भोलेनाथ की विशेष कृपा होती है। इस दिन व्रत करने से विवाह संबंधी परेशानियों से मुक्ति मिलती है। इस दिन अगर कुंवारी लड़कियां भगवान शंकर का व्रत रखती हैं तो उन्हें अपने जीवनसाथी के रूप में मनपसंद वर की प्राप्ति होती है। भगवान शिव के प्रसन्न होने पर कन्या के विवाह में आ रही परेशानियां दूर हो जाती है। मासिक शिवरात्रि के दिन सुबह उठकर स्नान करें और व्रत शुरू करें। भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा करें। शिवलिंग पर दूध, भांग, धतूरा, बेलपत्र अर्पित करें। इसके बाद धूप, दीप, फल और फूल चढ़ाएं। भगवान शिव की स्तुति, शिव चालीसा, शिव श्र्लोक का पाठ करें और जीवन की समस्याओं से निजात पाएं।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन