Thursday, August 5, 2021
Homeदुनियानेपाल कर रहा विवाद, हो सकते हैं भारत से रिश्ते ख़राब

नेपाल कर रहा विवाद, हो सकते हैं भारत से रिश्ते ख़राब

- Advertisement -

भारत और नेपाल के बीच विवाद बढ़ता ही जा रहा है। नेपाल ने अपने नए नक्शे के साथ संविधान संशोधन बिल को अपनी संसद में पेश किया है जिसमें नेपाल के नक्शे में कुछ बदलाव नजर आ रहे हैं। मामला भारत के कालापानी, लिपुलेख और लिम्पयाधुरा का है, जिसे नेपाल ने अपने नक़्शे में शामिल किया है। भारत के लोगों को सिक्किम से मानसरोवर की यात्रा करने में बहुत ज्यादा दूरी तय करना पड़ता है इसीलिए भारत द्वारा मानसरोवर जाने के लिए उत्तराखंड से रास्ता बनाया गया है जिसका 8 मई को उद्घाटन किया गया है, उसी वक्त से नेपाल अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहा है। नेपाल सुगौली की संधि को ठीक से ना समझ कर विवाद को पैदा करता जा रहा है।

- Advertisement -

भारत नेपाल का पुराना मित्र रहा है और हर जरूरत में भारत ने नेपाल का साथ दिया है। नेपाल ऐसा अपने मन से नहीं कर रहा है बल्कि चाइना के दबाव में वह इस तरह के कार्य को कर रहा है। कुछ दिनों पहले नेपाल के प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा ओली ने कहा था कि भारत नेपाल में कोरोनावायरस फैला रहा है और भारत द्वारा फैलाया गया कोरोनावायरस बाकी सभी देशों से बहुत मजबूत है जबकि भारत ने नेपाल को 2,00,000 हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवाएं पड़ोसी देश होने के नाते मुफ्त में दी थी। एक पड़ोसी देश होने के नाते भारत नेपाल के साथ दोस्ताना व्यवहार रखना चाहता है।

- Advertisement -

भारत और नेपाल के बीच 2015 में मद्धेशिया विवाद हुआ था और उस वक्त भारत ने नेपाल के दिमाग को ठिकाने लगा दिया था। अगर भारत फिर से अपने बॉर्डर शेयर और बंदरगाह के रास्तों को नेपाल के लिए बंद कर दें तो शायद नेपाल का दुनिया से जुड़े रहना मुश्किल हो जाएगा। नेपाल का भारत के कुछ हिस्सों को अपना हिस्सा बताना शायद नेपाल और भारत के रिश्तो के लिए बेहतर नहीं होगा।

- Advertisement -

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन