Tuesday, October 19, 2021
30.1 C
Delhi
Homeदुनियानेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के विवादित अयोध्या बयान मामले में...

नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के विवादित अयोध्या बयान मामले में नेपाल के विदेश मंत्रालय ने दी सफाई।

- Advertisement -

नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के अयोध्या का नेपाल में होने को लेकर किए गए दावे पर नेपाल के विदेश मंत्रालय ने सफाई दी है। अब नेपाल के विदेश मंत्रालय की तरफ से बयान आया है कि प्रधानमंत्री ओली का बयान किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए नहीं था। कहा गया है कि प्रधानमंत्री का बयान किसी राजनीतिक विषय से नहीं जुड़ा हुआ है और ना ही उनका इरादा किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना था और ना ही अयोध्या के महत्व और सांस्कृतिक मूल्यों का अपमान करना था। दरअसल नेपाल में असली अयोध्या होने का दावा करने पर अब नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली बुरी तरह से फंस गए हैं। प्रधानमंत्री केपी ओली अपने बेतुके बयान को लेकर हर तरफ आलोचनाओं से घिरते जा रहे हैं।

- Advertisement -

बता दें कि के पी शर्मा ओली ने दावा किया है कि असली अयोध्या नेपाल के बीरगंज के पास एक गाँव है जहाँ भगवान राम का जन्म हुआ था। नेपाल में राष्ट्रीय प्रजातंत्र पार्टी के नेता कमल थापा ने ने भी प्रधानमंत्री केपी ओली के इस बेतुका बयान पर कड़ी आपत्ति जताई है और उन्होंने कहा है कि किसी भी प्रधानमंत्री के लिए इस तरह का बेतुका और अप्रामाणित बयान देना उचित नहीं है। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा है कि ऐसा लगता है कि प्रधानमंत्री ओली भारत और नेपाल के रिश्ते को सिर्फ बिगाड़ना चाहते हैं लेकिन उन्हें तनाव कम करने वाले काम करना चाहिए।

- Advertisement -

अयोध्या के साधु-संतों ने भी नेपाल के प्रधानमंत्री द्वारा भगवान राम को नेपाल का बताने और असली अयोध्या नेपाल में होने के बयान पर कड़ी आपत्ति जताई है। संतों ने कहा है कि किसी देश के प्रधानमंत्री को इस तरह की गलत बयानबाजी करना शोभा नहीं देता है। केपी ओली के इस बेतुके बयान को लेकर वह अब अपनी ही पार्टी के नेताओं के निशाने पर आ गए हैं। नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के कई नेताओं ने खुलकर इसकी कड़ी आलोचना की है और ओली को बयान वापस लेने और बिना तथ्यों और आधार के कोई बात नहीं कहने की सलाह भी दी है। पार्टी के उपाध्यक्ष बामदेव गौतम ने फेसबुक पर पोस्ट लिखकर कहा कि पीएम ओली के बयान से अंतरराष्ट्रीय विवाद पैदा हुआ है और उनका बयान निराधार है।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन