Wednesday, September 28, 2022
26.1 C
Delhi
Homeआस्थाभक्तों के दुःख होंगे दूर, कल से शारदीय नवरात्र की होगी शुरुआत

भक्तों के दुःख होंगे दूर, कल से शारदीय नवरात्र की होगी शुरुआत

- Advertisement -

शनिवार यानि 17 अक्टबूर से शारदीय नवरात्र की शुरू हो रहा हैं। साल में 4 बार आने वाले मां के नौ दिन बेहद ही खास माना जाता है। ये सभी नौ दिन माँ की आराधना की जाती है। ऐसा कहा जाता है कि इन नौ दिनों तक माँ धरती पर विराजती हैं। मां अम्बे की सवारी सिंह है, लेकिन यह तभी उनका वाहन है जब वे युद्ध रत होती हैं। भक्तों के पास आने के लिए मां भगवती भिन्न-भिन्न वाहनों का चुनाव करती हैं। माता के आने का दिन भी निश्चित है। इस बार माँ अश्व रूढ़ा हैं। स बार माता घोड़े पर सवार होकर आ रही हैं।

- Advertisement -

इस साल कष्ट में फंसे अपने भक्तों के दुःख को दूर करने मां आ रही हैं। नवरात्रि के दौरान देवी पूजन और नौ दिनों के व्रत रखने का काफी महत्व है। इस बार नवरात्रि पर विशेष संयोग बन रहा है। नवरात्रि के साथ ही शुभ कार्य भी शुरू हो जाएंगे। देवी मां के आगमन की तैयारी जोरों पर चल रही है। नवरात्रि के नौ दिनों तक देवी मां के अलग-अलग स्वरूपों की उपासना की जाती है। कलश स्थापना के बाद नौ दिनों मां की पूजा-पाठ, आरती, मंत्रोचार और व्रत रखकर उन्हें प्रसन्न किया जाएगा।

- Advertisement -

नवरात्रि में कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। भूलकर भी तामसिक भोजन नहीं करना चाहिए। मांस, मछली,अंडा या शराब आदि वर्जित माना जाता है। लहसुन और प्याज को तामसिक मन जाता है इसीलिए इसका उपयोग बिलकुल नहीं करना चाहिए। नाख़ून, बाल या दाढ़ी नहीं कटवाना चाहिए। अगर घर में अखंड ज्योति जलाई गयी है तब घर को बिल्कुल भी अकेला नहीं छोड़ना चाहिए। मन में अच्छे विचारों के साथ ध्यान पूजा पर होना चाहिए।

- Advertisement -

न्यूज़ अपडेट

मनोरंजन